banshidhar4

आज जहाँ राजनीति में नेता शान और शौकत की जिंदगी जीना पसंद करते हैं। तो वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री वंशीधर बौद्ध जमीन से जुड़कर जनता की सेवा में लगे हुए हैं। वह समाजवादी विचारधारा के जीते जागते मिसाल हैं। गाँधी और लोहिया के विचारों से प्रेरित होकर वंशीधर अपने क्षेत्र में जनता के बीच रहते हैं। सीएम अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाज कल्याण विभाग के राज्यमंत्री वंशीधर बौद्ध आज भी झोपड़ी के घर में रहते हैं। इसके अलावा वह अपनी खेती बाड़ी खुद सँभालते हैं। कभी साइकिल का पंचर बनाने वाले वंशीधर बहराइच के बलवा विधानसभा सीट के विधायक हैं।

banshidhar2A

विधायक बनने से पहले वह चौकीदारी का काम करते थे। वंशीधर की दिनचर्या बिल्‍कुल आम लोगों की तरह है। अपना काम खुद करना और जमीन से जुड़कर जनता की सेवा करने को ही वह राजनीति का मकसद मानते हैं। वंशीधर विधायक बनने से पहले ग्राम प्रधान और जिला पंचायत सदस्य भी रह चुके हैं। लेकिन वंशीधर ने कभी भी अपनी सादगी से समझौता नहीं किया। इस साल 16 जून को जब उन्‍होने अपनी बेटियों की शादी भी उन्होंने अपनी झोपड़ी में की थी। इस शादी में सीएम अखिलेश यादव भी शरीक हुए थे।

मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव को वंशीधर की सादगी काफी पसन्‍द आई। इसी से प्रभावित हेाकर मुख्‍यमंत्री ने उन्‍हें राज्‍यमंत्री बनाया। हाल ही उनके क्षेत्र में बाढ़ आई जिसमें उनके घर में पानी आ गया था। जिसे वंशीधर ने बिना किसी की मदद के खुद फावड़ा लेकर साफ़ किया। इसके अलावा उन्होंने बाढ़ सहायता राशि लेने से भी मना कर दिया। कुल मिलाकर आज की तारीख में हमारे समाज को वंशीधर जैसे नेताओं की जरूरत है। जो जमीनी स्तर पर जनता से जुड़कर काम करें।