sanjay gupta

प्रतिकूल परिस्थितियों में काम करने क बावजूद हमारे देश की पुलिस को उनके अच्छे कामों के लिए कई बार तारीफ नहीं मिल पाती हैं, जबकि कई ऐसे मौकों में पुलिस ने आगे बढ़कर मानवता का परिचय दिया है। ताजा मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का है, जहां यूपी पुलिस के एक सब इंस्पेक्टर ने सड़क पर तड़प रहे युवक की जान बचाई। यहां कैपिटल तिराहा के चैकी इंचार्ज संजय गुप्ता कुछ दिनों पहले रात में करीब 11:30 बजे ड्यूटी पूरी कर अपने घर जा रहे थे। तभी उन्होंने निशातगंज पुल पर भीड़ लगी देखी। संजय गुप्ता ने रुककर देखा तो खून से लथपथ एक युवक तड़प रहा था। इसके बावजूद भीड़ में खड़े लोग सिर्फ तमाशबीन बने हुए थे। यह देखकर संजय में एक ऑटो रुकवाया और घायल युवक को लेकर सिविल अस्पताल पहुंचे। युवक को समय रहते इलाज मिलने से उसकी जान बच गई। संजय गुप्ता का यह कदम इसलिए भी सराहनीय है कि जहां हादसा हुआ था, वह इलाका उनके क्षेत्राधिकार का भी नहीं था। इसके बावजूद उन्होंने घायल युवक की जान बचाना अपना फर्ज समझा।  यह पहला मामला नहीं जब उत्तर प्रदेश की पुलिस ने आगे बढ़कर लोगों की व्यक्तिगत तौर पर मदद की है। सोशल समाजवादी संजय गुप्ता की इस नेक काम की दिल से सराहना करता है।