ob-sb696_iup2_g_20120306001815

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने अपना 78वां जन्मदिन इस बार नहीं मनाया। क्योंकि कानपुर में एक बड़ा ट्रेन हादसा हुआ जिसमें कई जानें गयीं और कई लोग घायल हो गये। साथ ही इलाहाबाद के पार्टी कार्यकर्ताओं ने कानपुर ट्रेन हादसे के घायलों की मदद के लिए ब्लड डोनेशन कैम्प का आयोजन किया। जिससे समाजवादी लोगों का सेवा भाव एक बार फिर नजर आया।

Blood Donation Camp For Train Accident Victims By SP Workers - 1

वहीं पीएम मोदी उसी दिन आगरा रैली में शामिल हुए। उन्हें इस बड़े रेल हादसे का जरा भी फ़िक्र नहीं हुआ। जबकि लोहिया के बताये मार्ग पर चलने वाले मुलायम सिंह यादव ने जन्म दिन पर कोई जश्न नहीं मनाया और सादे समारोह में ब्लड डोनेशन कैम्प लगाकर ट्रेन हादसे के पीड़ितों की मदद की अनूठी पहल की। इससे साफ़ होता है कि उत्तर प्रदेश की जनता से कौन कितना संवेदना रखता है। क्या पीएम मोदी को आगरा रैली रद्द नहीं करनी चाहिए थी।

सीएम अखिलेश यादव ने हादसे में मरने वालों के परिवारों को 5 लाख, गंभीर रूप से घायलों को 50 हजार और आंशिक रूप से घायलों को 25 हजार रुपये देने का ऐलान किया। साथ दुर्घटना स्थल पर हाईलेवल की मदद भी पहुंचाई। अखिलेश यादव की तत्परता से अंदाजा लगाया जा सकता है कि उनके काम में उनकी संवेदनशीलता साफ़ झलकती है।