147

पूरे उत्तर प्रदेश में क्रांति रथ यात्रा निकालकर प्रदेश की तानाशाह और विकास विरोधी सरकार को हटाने में अहम भूमिका निभाने वाले सीएम अखिलेश के भाषण उस काफी लोकप्रिय हुए थे। उसके बाद बतौर सीएम यूपी को विकास के रास्ते पर ला खड़ा किया। इस पूरे परिवर्तन में मुख्यमंत्री ने जनता से संवाद करते हुए कई भाषण दिये। युवा और बदलाव के प्रतिमूर्ति के चेहरे मुख्यमंत्री के इन्हीं भाषणों के संग्रह ने एक किताब का शक्ल ले लिया है। इसका मतलब हमारे सीएम अखिलेश अब लेखक भी बन गये हैं। इस किताब का नाम “परिवर्तन की आहट” है। जिसका सम्पादन वरिष्ठ मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने किया है।

राजकमल प्रकाशन के बैनर तले छपी किताब “परिवर्तन की आहट” में मुख्यमंत्री ने अपने तमाम भाषणों और मीडिया संग हुई बातचीत को संकलित किया है। इस किताब में प्रदेश के विकास का रोडमैप और प्रदेश में परिवर्तन से जुड़े घटनाक्रम पर सीएम की राय संग्रहित है। जो प्रदेशवासियों और समाजवादी विचारधारा के लोगों को आगे बढ़ने में मार्गदर्शक की तरह होगी। सीएम अखिलेश यादव की योजना इस किताब की पूरी श्रृंखला निकालने की है।

किताब के बाजार में आने की खबर लगते ही सोशल मीडिया पर किताब चर्चा का विषय बन गयी है। वास्तव हम सभी समाजवादियों को सीएम अखिलेश की इस भाषण संग्रह को जरुर पढ़ना चाहिए। जिससे हमे पता चल पायेगा कि हमारे सीएम हम आम जनता को बेहतर ज़िन्दगी देने के प्रति कितने संवेदनशील हैं। इसके अलावा हम प्रदेश की तरक्की में उनकी इस सोच का अहम हिस्सा बन सकते हैं।