Akhileshramsunder

दुनिया में मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं होता है। मानवता ही व्यक्ति का असली मकसद होना चाहिए। किसी का दर्द बाँटना हमारी ज़िन्दगी का मकसद होना चाहिए। सम्पूर्ण मानवजाति का विकास इसी में निहित है। हमारे सीएम अखिलेश यादव के मानवीय पहलू से हर कोई वाकिफ है। उन्हें आजतक जितनी भी फरियादें मिली हैं। उन्होंने उसे भरसक पूरा करने की कोशिश की है। इसी क्रम में हाल ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पहल पर लखनऊ के गोमतीनगर स्थित डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉक्टरों ने देवरिया के बुजुर्ग रामसुंदर को पेसमेकर लगाकर नया जीवन दिया है।

राम सुंदर की तबीयत लम्बे समय से खराब चल रही है। जिसका उपचार कराने वह लखनऊ आये। उन्हें बेहोशी की हालत में कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती कराया गया था। घर वाले उम्मीद छोड़ चुके थे। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति आड़े आ रही थी। जिसकी वजह से उनके इलाज में दिक्कतें आ रहीं थीं। रुपये-पैसे की किल्लत और कोई भी उनकी मदद करने को तैयार नहीं था।

इस सूचना को लोहिया संस्थान के कार्डियोलॉजी विभाग ने प्रदेश सरकार तक पहुंचाई और संदेश मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तक पहुंचा। इस पर मुख्यमंत्री संजीदा हुए और उन्होंने तुरंत डॉक्टरों को पेसमेकर लगाने के आदेश दिए। साथ ही मुख्यमंत्री ने उनके इलाज से जुड़ी किसी भी आर्थिक स्थिति के संकट का जिम्मा लेने की बात कही। आज रामसुंदर की सांसे अच्छे से चलने लगी हैं। जिसकी वजह हैं हमारे प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव जो रामसुंदर की मदद को आगे आये। सोशल समाजवादी भी मुख्यमंत्री के इस मानवीय पहलू की सराहना करता है।