image

बुजुर्गों को उम्र के इस पड़ाव पर आकर मदद की सबसे अधिक जरूरत होती है। बुजुर्गों का एकाकीपन दूर करने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहले ही योजनाएं चला रहे हैं अब 60 साल की उम्र से ज्यादा वालों को पेंशन देने की योजना लाकर उन्होंने सोने पर सुहागा कर दिया है। जी हां, अगर आपकी उम्र 60 साल से ज्यादा है और सरकारी कर्मचारी नहीं हैं, तो उत्तर प्रदेश सरकार आपको पेंशन देगी। प्रदेश के श्रमविभाग ने ऐसे लोगों पेंशन देने की योजना शुरू की है, जिनके पास आय का कोई साधन नहीं है। पेंशन के रूप में प्रदेश सरकार हर माह 1000 रुपये देगी। ये राशि अधिकतम 1250 रुपए हो सकती है। इसके लिए जरूरी है कि आपका रजिस्ट्रेशन 3 साल पहले से श्रम विभाग में होना चाहिए। वहीं अप्लाई करने वाले का अंशदान भी उसमें जमा होना चाहिए। श्रम विभाग में हर साल 50 रुपये जमा होते हैं। इसी के अनुसार 3 साल का अंशदान होना जरूरी है। इसके अलावा आप यूपी के स्थाई निवासी होने चाहिए। किसी दूसरे बोर्ड या पेंशन योजना के सदस्य नहीं होने चाहिए।


पेंशन के लिए ऐसे करें आवेदन 

60 साल की उम्र पूरी होने के 3 महीने पहले जहां के स्थाई निवासी हों, उस जिले के स्थानीय श्रम ऑफिस, तहसील या फिर ब्लॉक से एप्लीकेशन या पेंशन प्रार्थना पत्र लेकर यहीं जमा करें। अगर 60 साल के होने के बाद भी आवेदन करते हैं, तो आपको छूट देने का अधिकार समिति के पास होगा।
ये दस्तावेज लेकर जाएं

फॉर्म के साथ पहचान पत्र की फोटोकापी, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी, स्थाई निवास प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी। इसके अलावा एक एफिडिविट लगाना पड़ेगा जोकि प्रमाणित करेगा कि आप दूसरी योजना की पेंशन नहीं ले रहे हैं। खाता लाभार्थी के नाम पर ही होना चाहिए, जिसमें पेंशन जाएगी। आपका आवेदन जिला स्तर पर बनी 3 सदस्यीय समिति के सामने पेश किया जाएगा। इस समिति में डीएम और मुख्य विकास अधिकारी अध्यक्ष होंगे। जबकि अपर उप सहायक श्रमायुक्त सदस्य सचिव होगें और जिला समाज कल्याण अधिकारी सदस्य होगें।
पति के निधन के बाद पत्नी को मिलेगी पेंशन
लाभार्थी को हर साल अप्रैल महीने में खुद के जीवित होने के प्रमाण पत्र के साथ श्रम कार्यालय में उपस्थिति होकर वेरीफिकेशन कराना पड़ेगा। अगर पेंशनधारी की मृत्यु हो जाती है, तो ऐसी स्थिति में उसकी पत्नी को ये पेंशन मिलेगी। लेकिन वो कोई पेंशन का लाभ न ले रही हो। अगर पति-पत्नी दोनो पंजीकृत श्रमिक हैं, तो ऐसी स्थिति में उनको सिर्फ अपनी पेंशन मिलेगी।