146

साल 2012 में जब उत्तर प्रदेश की बागडोर युवाओं के चहेते नेता अखिलेश यादव ने संभाली थी। उस वक्त प्रदेश में उम्मीद की किरण जल उठी थी। हमारे सपनों को पूरा करने एक ऐसा नौजवान राज्य का सीएम बना था, जो सफर को आसान बनाने के लिए काम करने के इरादे से आया। पिछली सरकार ने तो प्रदेश को ऐसे घोर अंधकार में धकेल दिया था। जहां निकलना आसान नहीं था। लेकिन सीएम अखिलेश के इरादे बुलंद थे। उनका सिर्फ एक ही सपना था, यूपी का संतुलित विकास। जो आज तकरीबन 5 साल की सरकार में पूरा होता दिख रहा है। इस मंजिल तक पहुंचने में सीएम के नेक इरादे और फैसले काफी अहम रहे हैं।

145

इसी कड़ी में एक और फैसला मुख्यमंत्री ने लिया है। उत्तर प्रदेश की सुरक्षा-व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए प्रदेश में आधुनिक पुलिस सेवा यूपी 100 शुरू की गयी। उसके बाद पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आठ घंटे मुस्तैदी से ड्यूटी करने वाले प्रदेश के होमगार्डों का दैनिक भत्ता भी बढ़ा दिया है। ये अब 300 रुपये से बढ़ाकर 375 रुपये कर दिया गया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के इस फैसले से होमगार्डों का जीवन बेहतर और उनकी मेहनत का बढ़िया इनाम होगा। गैर जिलों में चुनाव या ड्यूटी के दौरान उन्हें 30 रुपये अतिरिक्त दिया जाता है।

सीएम अखिलेश यादव के इस फैसले से प्रदेश में अपनी सेवा दे रहे होमगार्ड्स के लिए ये नये साल के तोहफे से कम नहीं है। जिससे ये लोग अपनी पूरी क्षमता के साथ प्रदेश की सुरक्षा व्यवस्था में काम करेंगे।