whatsapp-image-2016-12-01-at-6-41-24-pm

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ आज कई ऐतिहासिक पलों की गवाह बनी। जिसका श्रेय सीएम अखिलेश यादव को सबसे ज्यादा जाता है। जिन्होंने एक तरह लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी दिखाकर यूपी को एक ऐसे में प्रवेश करवाया। जो आने वाली पीढ़ी और आज के युवों के लिए गर्व और किसी सम्मान से कम नहीं है। वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री ने यूपी के 12 विभूतियों को यश भारती अवॉर्ड से सम्‍मानित किया।

whatsapp-image-2016-12-01-at-2-05-48-pm

इस महान मौके पर सीएम अखिलेश यादव ने कहा, “26 मार्च से शहरवासी मेट्रो की सवारी कर सकेंगे। नेताजी ने जैसा कहा, हम समाजवादि‍यों ने वैसा करके दि‍खा दि‍या। गाजि‍याबाद, नोएडा में मेट्रो का काम चल रहा है। आने वाले समय में कानपुर और वाराणसी में भी मेट्रो शुरू की जाएगी। मेट्रो के इनॉगरेशन के बाद हम चुनाव के लि‍ए तैयार हैं। हमारे जैसा एक्‍सप्रेस-वे कि‍सी ने नहीं बनाया है। अभी ये केवल दो राजधानि‍यों को जोड़ रहा है। आने वाले समय में बड़े पैमाने पर शहरों को जोड़ने का काम कि‍या जाएगा।”

whatsapp-image-2016-12-01-at-2-07-33-pm

सीएम अखिलेश यादव ने आईएएस सुहास एलवाई, एक्‍टर नसीरुद्दीन शाह, लखनऊ यूनिवर्सिटी के उर्दू विभागाध्यक्ष अब्बास रजा नैय्यर, रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल एके सिंह, फिल्म निर्देशक और लेखक अतुल तिवारी सहित साहित्यकार दीन मोहम्मद दीन, केजीएमयू के डॉक्टर मंसूर हसन, एंकर अर्चना सतीश, एंकर शिखा द्विवेदी, महिला खिलाड़ी रचना गोविल और समाज सेवी प्रमोद कुमार चौधरी को यशभारती से सम्मानित किया। इस सम्मान समारोह ने लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन को ख़ास बना दिया।