13083359_946519688802984_1130211798494350030_n

उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार ने राज्य में जिन योजनाओं से आगाज किया था, अब वह अंजाम तक पहुँच गयीं हैं। इसलिए उनका नारा काम बोलता है, सच साबित हो रह है। राज्य में खेलों को बढ़ावा देने के लिए अखिलेश यादव ने राजधानी लखनऊ में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कराया। सीजी सिटी के पास 71 एकड़ एरिया में 360 करोड़ रुपये से बनकर ये स्टेडियम जल्द ही मूर्त रूप लेने वाला है। इस स्टेडियम में जल्द ही खेल की शुरुआत रणजी ट्रॉफी के मैच से होने वाली है। कर्नाटक व आंध्रप्रदेश के बीच ये रणजी मुकाबला अंतर्राष्ट्रीय सुविधाओं के साथ तैयार हो रहे इस क्रिकेट स्टेडियम में 7-10 दिसंबर के बीच खेला जाएगा।

इस रणजी के मैच के बाद इस स्टेडियम में आईपीएल मैच भी होगा। इसके लिए स्टेडियम में फ्लड लाइट्स के लगाने का काम जारी है। इसके अलावा इस महीन के अंत तक मैदान में बैठने के लिए सीट लगाने काम भी पूरा कर लिया जाएगा। खिलाड़ियों के लिए पवेलियन को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है। कुल मिलाकर यूपीसीए मार्च में आईपीएल के एक से अधिक मैच लखनऊ में कराने के मूड में है।

कहने का मतलब साफ़ कि अखिलेश यादव के आरम्भ का अंजाम अब बोलने लगा है। सीएम अखिलेश ने जिन परियोजनाओं को शुरू किया था। वह तकरीबन पूरी होने वाली है। जिसमें लखनऊ मेट्रो, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनकर तैयार हैं। ये सारे विकास कार्य अखिलेश यादव ने किये हैं। इसलिए यूपी की जनता भी अखिलेश में अपना नेता देखती है।