BULANDSHAHR CHITHTHI

अपनी मां के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को खून से चिठ्ठी लिखने वाली बुलंदशहर की बहादुर बेटियों की आवाज रंग लायी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मामले का संज्ञान लेते हुए जिले के एसएसपी अनीस अहमद अंसारी और जिला प्रशासन को इन बेटियों के घर भेजा। बेटियों ने अफसरों को आपबीती सुनाई। जिसके बाद अफसरों ने बहादुर बेटियों को इंसाफ दिलाने का वादा किया है।

CMO TWEET BAHADUR BETIYAN

दरअसल बुलंदशहर की अन्नू बंसल को 14 जून 2016 की सुबह उनके घर में ही मिट्टी का तेल डालकर जला दिया गया था। गंभीर हालत में अन्नू को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। अन्नू ने 6 दिन तक अस्पताल में रहकर मौत से जंग लड़ी, लेकिन हार गयी। अन्नू ने अपनी आपबीती अपनी मासूम बेटियों को सुनाई और दम तोड़ दिया। बेटियों ने वारदात के वक्त अपने पिता और उसके घरवालों को अन्नू के साथ मारपीट करते और जलाते हुए भी देखा था।

buland-girl1

इन बहादुर बेटियों ने सीएम अखिलेश को चिठ्ठी लिखकर न्याय की मांग की थी।  के लिए हाथ आगे बढ़ाये हैं। जिसके बाद बुलंदशहर पुलिस प्रशासन इन बेटियों के घर पहुंचकर उनकी समस्या को सुना। सीएम अखिलेश के इस कदम पर बहादुर बेटियों ने सीएम को धन्यवाद दिया है।