155

साल 2012 में बीबीसी के पत्रकार ने विधानसभा चुनाव के दौरान एक बुजुर्ग महिला से अखिलेश यादव के बारे में पूछा था। तो जवाब में उस महिला ने कहा कि मुलायम के बेटवा में करेजा दिखता है। यानि अखिलेश यादव में यूपी को विकास के नये पथ पर ले जाने की क्षमता है। ये बात आज अक्षरशः सच साबित हो रही है। सीएम अखिलेश यादव ने यूपी का रिकॉर्ड विकास किया है। इससे पहले किसी भी मुख्यमंत्री ने यूपी को इतनी ऊंचाई नहीं दी थी।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विधवा और तलाकशुदा महिलाओं के लिए सरकारी नौकरियों में उम्र की अधिकतम सीमा को खत्म करके उन्हें बेहतर जिन्दगी जीने का रास्ता दिया है। ऐसी महिलाएं सेवानिवृत होने की उम्र से पूर्व नौकरी का आवेदन कर सकेंगी। मुख्यमंत्री के इस फैसले से प्रदेश की महिलाओं का जीवन स्तर सुधरेगा और उन्हें भविष्य में अपने पैरों पर खड़े होने में मदद मिलेगी।

वास्तव में इस फैसले से आधी आबादी को बड़ा लाभ मिलेगा। साथ ही महिला तरक्की से प्रदेश व समाज में खुशहाली संभव है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव महिलाओं को शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी सुविधाओं के साथ-साथ उन्हें आर्थिक आत्मनिर्भरता भी प्रदान कर रहे हैं। इसके लिए कन्या विद्याधन, सामाजिक सुरक्षा 1090 वीमेन पॉवर लाइन और रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार देने का काम यूपी सरकार कर रही है।