मैं नेताजी का जितना सम्मान पहले करता था, राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर उससे ज्यादा सम्मान करूंगा। नेताजी का जो स्थान है, वह सबसे बड़ा स्थान है। मैं नेताजी का बेटा हूं और रहूंगा। ये रिश्ता कोई खत्म नहीं कर सकता। परिवार के लोगों को बचाना पड़ेगा तो वह करूंगा।”  – सीएम अखिलेश यादव

234

 

राजनीति में वोट पाना ही किसी राजनेता की सफलता तय नहीं करता है, बड़ी सफलता तभी किसी नेता को मिलती है। जब वह आमजनता का दिल जीत लेती है। उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव मौजूदा दौर के उन चुनिन्दा नेताओं में पहले नम्बर पर हैं। जो आज यूपी की जनता के दिल पर राज कर रहे हैं। बीते दिनों के घटनाक्रम में जिस तरह का प्यार आम जनता ने अखिलेश के लिए दिखाया है। उस तरह यूपी के इतिहास में कभी भी किसी नेता के लिए नहीं देखने को मिला है।

 

233

 

जनेश्वर मिश्र पार्क में हुए राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव के समर्थन में भीड़ उमड़ी थी। उससे साफ़ अंदाजा लगाया जा सकता है कि अखिलेश यादव देश के सबसे बड़े युवा नेता हैं। जिस तरह की नारेबाजी और उत्साह जनेश्वर मिश्र पार्क में देखने को मिला है, वह अन्य दलों के लिए हैरानी का विषय बन गया है। इसमें सबसे अहम उनकी संवेदनशीलता और आम जनता के प्रति लगाव का असर है। जिसकी वजह से आज अखिलेश यादव के समर्थकों ने उन्हें अपना सबसे बड़ा नेता मान लिया है।

piv

 

युवा और यशस्वी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की लोकप्रियता का आलम ये है कि लखनऊ में शिमला जैसी ठंड में कार्यकर्ता पूरे गर्मजोशी से अखिलेश के समर्थन में खड़े हुए हैं। इसमें सबसे ज्यादा युवा और महिलाएं हैं। जो अखिलेश में यूपी का सुरक्षित और गौरवशाली भविष्य देखती हैं।