Unnao:  Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav looks on as a fighter plane touches down during the opening of Agra-Lucknow expressway, in Unnao on Monday. PTI Photo (PTI11_21_2016_000338A) *** Local Caption ***

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे 23 दिसम्बर से आम नागरिकों के लिए खोल दिया गया है। 302 किलोमीटर वाला देश का सबसे लम्बा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे अब आम जन को रास्ता देने के लिए तैयार है। प्रदेश की आम जनता के लिए लखनऊ से आगरा तक की दूरी अब छह घंटे के बजाय महज साढ़े तीन घंटे में पूरी होगी। इस एक्सप्रेस-वे से लखनऊ से उन्नाव, कानपुर, हरदोई, कन्नौज, औरैया, इटावा, मैनपुरी और फिरोजाबाद जिलों तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। उसके बाद आगरा से 165 किलोमीटर लंबे यमुना एक्सप्रेसवे से दिल्ली महज ढाई घंटे में पहुचा जा सकता है। यानी प्रदेश की राजधानी से देश की राजधानी तक पहुंचने में मात्र अब छह घंटे लगेंगे।

182

एक्सप्रेस वे पर सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए अखिलेश सरकार ने हर 30 किलोमीटर पर दोनों दिशाओं पर यूपी 100 और 108-एम्बुलेंस सेवा भी सुनिश्चित की है। सीएम अखिलेश के इस आधुनिक एक्सप्रेसवे में गांव और किसानों का भी ख्याल रखा गया है। इसलिए इसमें 132 फुट ओवर ब्रिज और 59 अंडर पास दिए गए हैं, ताकि गांव के लोगों को असुविधा न हो। इमरजेंसी के दौरान एक्सप्रेसवे मिराज और सुखोई जैसे फाइटर प्लेन भी उतारा जा सकता है।

184

आम जनता के हित में हर फैसले लेने वाले सीएम अखिलेश ने इस एक्सप्रेसवे से यूपी को नई पहचान दी है। अखिलेश यादव का ये प्रोजेक्ट प्रदेश के विकास को नई रफ्तार देगा। जिससे यूपी का आने वाला भविष्य सुनहरा होगा।