shaheed jwaan

सीमा पर जवान, खेतों में किसान एक नारा भर ही नहीं है। समाजवाद की बुनियाद और उसका अस्तित्व इन्हीं शब्दों पर टिका है। इन शब्दों को प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कई बार सार्थक साबित किया है। हाल ही में कश्मीर के पंपोर में आतंकी हमले में शहीद हुए राज्य के पांच जवानों के परिवारों को 20-20 लाख रुपये मुआवजा के तौर पर देने का ऐलान किया है।

सीएम अखिलेश ने आतंकी साजिश के शिकार हुए सीआरपीएफ के शहीद जवानों के परिवारों को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। जिससे शहीद के परिवारीजनों को आर्थिक दिक्कतों का सामना न करना पड़े। इससे मुख्यमंत्री के संवेदनशीलता का अंदाजा लगाया जा सकता है। बीते शनिवार को पंपोर में लश्कर के आतंकियों ने सीआरपीएफ जवानों को ले जा रही बस पर घात लगाकर हमला कर दिया था। इस आतंकी हमले में आठ जवान शहीद हुए थे जबकि 22 अन्य इस हमले में घायल हो गए थे। शहीद हुए आठ जवानों में से पांच उत्तर प्रदेश के थे। इनमे फिरोजाबाद के वीर सिंह, मेरठ के सतीश चंद मावी, उन्नाव के कैलाश यादव, जौनपुर के संजय सिंह और इलाहाबाद के राजेश कुमार देश की रक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त हुए।

इससे पहले अभी हाल ही में मथुरा में दो पुलिस अधिकारियों के शहीद होने पर उन्हें भी अखिलेश सरकार ने आर्थिक सहायता दी थी। अखिलेश सरकार के इस कदम से देश और प्रदेश की सुरक्षा में तैनात जवानों के लिए बहुत बड़ी उम्मीद की तरह है। सरकार के इस कदम को सोशल समाजवादी भी सलाम करता है।