123

युवा और बेदाग छवि के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश का लगातार संतुलित विकास हो रहा है। हाईवे-एक्सप्रेसवे जीवनदायिनी 108 एम्बुलेंस सेवा, समाजवादी पेंशन योजना और किसान बीमा जैसी योजनाओं से गांवों का काफी विकास किया है। लेकिन हाल ही में अखिलेश सरकार ने विकलांजन (दिव्यांग) पुरस्कार की राशि पांच हजार से बढ़ाकर 21 हजार रुपये करने का निर्णय लेकर अपने इरादे और बड़ा दिल दिखा दिया है।

124

दिव्यांग जनों की दिक्कतों व जरूरतों को समझकर सुविधाएं उपलब्ध कराना समय की जरूरत है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए अखिलेश सरकार ने राज्य स्तरीय पुरस्कारों के तहत दिव्यांगों को पांच-पांच हजार रुपये की पुरस्कार राशि को बढ़ाकर 21 हजार कर दिया है। अखिलेश सरकार का ये फैसला ऐतिहासिक फैसला है, क्योंकि 16 साल बाद पुरस्कार राशि में बढ़ोत्तरी की फैसला हुआ है।

125

सीएम अखिलेश यादव यूं ही संवेदनशील नहीं कहे जाते हैं। उनके काम उन्हें काफी संवेदनशील बनाते हैं। हाल ही में 30 दिव्यागों को सहायक उपकरण सौंपकर सीएम अखिलेश ने उनका हौसलाअफजाई किया। इसके अलावा राज्य के 10 हजार दिव्यांगों को सहायक उपकरण उपलब्ध कराने की अखिलेश सरकार की योजना है। साथ ही 18 वर्ष से कम आयु वाले नि:शक्त बच्चों के माता या पिता को समाजवादी पेंशन योजना का लाभ और कुष्ठ रोगियों को 2500 रुपये प्रतिमाह पेंशन बांटी जा रही है।