ss-10

 

एटा के अलीगंज रोड पर एक स्कूली बस और ट्रक के बीच टक्कर होने से 20 से अधिक बच्चों की मौत हो गयी। ये सूचना यूपी के सीएम अखिलेश यादव को मिली उन्होंने फ़ौरन अपने एक मंत्री को घटनास्थल पर भेजा। इसका अलावा उन्होंने सभी घायल बच्चों के मुफ्त इलाज की भी घोषणा कर दी और दोषियों पर कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए गये।

इस पूरी घटना का दोष अगर किसी को जाता है, तो वह जे.एस. विद्यानिकेतन स्कूल को जिसने डीएम के आदेशों की अवहेलना करते हुए ठंडक की छुट्टी में भी स्कूल खोल रखा था। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एटा के दर्दनाक हादसे पर गहरा दुख जताया। सीएम ने कहा कि घायलों को किसी तरह की परेशानी नहीं होनी चहिए।

डीएम ने खराब मौसम और कोहरे को देखते हुए छुट्टी के आदेश दिए थे, लेकिन डीएम के आदेश को नजरअंदाज करते हुए स्कूल खोला और यह बड़ा हादसा हो गया। बस में करीब 55-60 बच्चे सवार थे। अखिलेश यादव की संवेदशीलता और तेजी ने घायल मासूमों को मौके पर ही इलाज दिलाने में अहम योगदान दिया। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि अखिलेश यादव किस तरह से यूपी की जनता के करीब हैं।