lohia-awas

विकास का सपना तब पूरा होता है, जब ग्रामीण जनता को उसका अपना हक़ मिलने लगे। बिना ग्रामीणों और गरीबों को उनका हक मिले किसी भी प्रदेश या देश को विक्सित नहीं माना जा सकता है। ये पैमाना और ये बातें युवा दिलों की धड़कन यूपी के सीएम अखिलेश भलीभांति जानते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री बनते ही प्रदेश के गांवों और किसानों को विकास यात्रा से जोड़ने की बात कही थी।

power-uprvunl

 

अब वह अपना कार्यकाल पूरा करने की स्थिति में हैं और विधानसभा चुनाव 2017 में विजय की ओर बढ़ने के लिए विकास रथयात्रा पर निकले हैं। तो उनके ग्रामीण विकास की कहानी साल 2012 के बाद से काफी कुछ बदल गयी है। सीएम अखिलेश यादव ने लोहिया ग्राम विकास योजना, जनेश्वर मिश्र ग्राम विकास योजना और लोहिया आवास योजना चलाकर प्रदेश के गांवों को आधारभूत सुविधाओं से लैस करवाने का काम किया है। इन योजनाओं के तहत गरीब ग्रामीणों को मिला है। सीएम अखिलेश का सपना रहा है कि किसी भी ग्रामवासी को कच्चे घर में न रहना पड़े इसके लिए उन्होंने ऐसे परिवारों को चिन्हित करके उन्हें पक्का आवास मुहैया कराया।

lohiya-awas

इसके अलावा प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य की बिजली समस्याओं को दूर करने के लिए कई अहम कदम उठाये हैं। सीएम अखिलेश के कार्यकाल में आज गांवों में सबसे अच्छी बिजली की व्यवस्था है। साथ ही जहाँ जरूरत पड़ी है, वहां लोगों को सौर उर्जा के माध्यम से भी बिजली मुहैया हो रही है। आज जनता भी अखिलेश के बेहतरीन कामकाज की सराहना करती है। साथ ही उन्हें दोबारा विजय दिलाने के लिए लालयित हो रही है।