akhilesh

मानवीय संवेदना किसी भी राजनेता को और बेहतर बना सकता है। अब अगर हम मानवीय संवेदना की बात करें तो हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इस मामले में अन्य नेताओं से काफी आगे हैं। उन्हें पता है कि उनके प्रदेशवासियों के लिए कैसी जरूरत ज्यादा जरुरी है। अखिलेश सरकार महिला सशक्तिकरण पर विशेष ध्यान देती आई है। इसी कड़ी में सरकार बेटियों की शादी में भी गरीब लोगों की मदद करती है। जिससे कभी भी बेटी की शादी में आर्थिक संकट रोड़ा न बने।

इसके लिए प्रदेश सरकार शादी अनुदान योजना चला रही है। जिसके तहत शादी अनुदान का पैसा सीधे लाभार्थियों के खाते में भेज दिया जाता है। प्रदेश की अखिलेश सरकार आर्थिक रूप से कमजोर तबके के लोगों को बेटी की शादी के लिए आर्थिक मदद दे रही है। पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग व समाज कल्याण विभाग की ओर से शादी के लिए 20 हजार रुपये की सहायता दी जाती है। अनुदान के लिए नई गाइड लाइन जारी होने के साथ ही नई व्यवस्था लागू कर दी गई है। अब तक जिन लोगों ने आवेदन किया था उनके खातों में पैसा भेज दिया गया है। नई व्यवस्था की वजह से आय सीमा भी बढ़ा दी गई है। शहरी क्षेत्र के आवेदकों के लिए वार्षिक आय की अधिकतम सीमा 56,460 और ग्रामीण क्षेत्र के लिए 46,080 रुपए कर दी गई है। ऑनलाइन आवेदन कहीं से भी किया जा सकता है। शादी के तीन महीने पहले या शादी के तीन महीने बाद तक आवेदन किया जा सकता है।

अखिलेश सरकार की ये योजना ऐसे गरीब तबकों के लिए खासी राहत लेकर आई है। जिन्हें पहले अपनी लड़की की शादी में धन की कमी के चलते दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब इस योजना से हर पिता के चेहरे पर मुस्कान है।