indi39231-bw

सरकार वही अच्छी होती है, जो अपने हर नागरिक का ख्याल रखे। इस मामले में प्रदेश की अखिलेश सरकार सबसे आगे रही है। इस सरकार ने मानवता को आगे रखते हुए प्रदेश के विकास को तरजीह दी है। हाल ही में अखिलेश सरकार ने अपने एक अहम फैसले में 60 साल और उससे ज्यादा उम्र के हथकरघा बुनकरों के जीवन स्तर में सुधार के लिए उन्हें हर महीने 500 रुपये समाजवादी पेंशन देने की घोषणा की है। परिवार में एक सदस्य को 60 वर्ष की आयु सीमा पूरी करने के बाद पेंशन सीधे उसके खाते में दी जाएगी।

प्रदेश में लगभग ढाई लाख हथकरघा बुनकर व 80 हजार हथकरघे हैं। जिनमें कई परिवार लगे हुए हैं। इसके अलावा बहुत से ऐसे बुनकर हैं। जो अपना पूरा जीवन इस उद्योग में काम करके बिता देते हैं। ऐसे में उन्हें बुढ़ापे में मिलने वाली ये पेंशन बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगी। क्योंकि 60 साल के बाद व्यक्ति काम करने लायक नहीं रह जाता है। इसलिए प्रदेश सरकार ने ऐसे लोगों को बाकी ज़िन्दगी आराम से जीने के लिए उन्हें समाजवादी पेंशन देने की घोषणा की है। समाजवादी हथकरघा बुनकर पेंशन योजना के लिए 30 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है।

इस योजना में पुरस्कार प्राप्त बुनकरों को वरीयता मिलगी। इसके अलावा सोसाइटी के सदस्य व अधिक आयु वालों को वरीयता मिलेगी। सरकार की इस पहल से हथकरघा बुनकरों का अन्य व्यवसाय की ओर पलायन रुकेगा जिससे प्रदेश का बुनकर उद्योग आगे बढ़ेगा। जिससे लोगों को रोजगार मिलता रहेगा।