capture4

खेल हमारे जीवन का अभिन्न अंग होना चाहिए। शिक्षा के साथ-साथ युवाओं में खेल के प्रति भी काफी लगाव होना चाहिए। इसी को ध्यान में रखते हुए अखिलेश सरकार ने पूरा फोकस युवाओं पर कर दिया है। सीएम उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए युवा नीति-2016 को मंजूरी दे दी है। जिसमें सबसे अहम बात है कि सरकार 32 हजार खेल शिक्षकों की भर्ती करने जा रही है।

यूपी के अपर प्राइमरी स्कूलों में जल्दी ही 32 हजार खेल शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। जिसमें बीपीएड डिग्री वाले अप्लाई कर सकते हैं। इन शिक्षकों की संविदा पर भर्ती होगी। इन्हें सात हजार रुपये प्रतिमाह का नियत मानदेय मिलेगा। भर्ती की पूरी प्रक्रिया ऑन लाइन होगी। इसके लिए सरकार ने 2016-17 के बजट में 200 करोड़ रुपये निर्धारित किये हैं।

ये भी पढ़ें: यूपी की आलिया ने तैराकी में रचा इतिहास

यूपी सरकार की इस नीति से न सिर्फ बीपीएड डिग्रीधारकों को रोजगार मिलेगा, बल्कि युवाओं को बचपन से ही खेलों के प्रति जागरूक होने में मदद मिलेगी। इससे यूपी में खेल संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा। सीएम अखिलेश यादव खुद फुटबॉल और क्रिकेट के अच्छे खिलाड़ी हैं। इसलिए उन्हें युवा खिलाड़ियों की जरूरतें पता हैं। इसलिए पहले हर जिले में खेल मैदान के बाद अब पूरे प्रदेश में 32 हजार खेल शिक्षक नियुक्त होंगे।