Untitled-261

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को यूं ही जनता ने अपने सिर-आँखों पर नहीं बिठाया है। उन्होंने जनता की भलाई के लिए काफी काम किये हैं। इसी सिलसिले में सीएम अखिलेश ने यूपी की 40 लाख ग्रामीण महिलाओं को इंटरनेट का प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है। इससे उनकी सशक्तिकरण के साथ साथ उत्थान भी होगा। वो आज के बदलते समय के साथ कदम से कदम मिलकर चल पाएंगी।

अखिलेश यादव के निर्देश तहत, मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने प्रदेश के 33 जिलों के 27 हजार गांवों की 40 लाख महिलाओं को इंटरनेट साथी कार्यक्रम के तहत इस साल मार्च तक प्रशिक्षित करने के सभी आयोजन कर लिए हैं। इसके लिए ऐसी 7300 स्थानीय महिलाओं को चुन कर प्रशिक्षित किया जाएगा, जो स्थानीय और आसपास के गांवों की महिलाओं को प्रशिक्षित करेंगी। प्रशिक्षण के बाद इन महिलाओं को डिजिटल रोजगार के अवसर भी उपलब्ध कराए जाएंगे।

1022905_Wallpaper2

भटनागर ने सरकारी स्कूलों में तकनीकी शिक्षा के लिए पायलट प्रोजेक्ट के रूप में बहराइच के 20 विद्यालयों में कक्षा पांच से आठ तक के छात्र-छात्राओं को दिसंबर से मुफ्त तकनीकी शिक्षा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कक्षा दो से चार तक के करीब 12 हजार विद्यार्थियों को भाषा व गणित विषय में सुधार के लिए विभिन्न प्रकार की एकेडमिक गतिविधियां जल्द आयोजित कराई जाएंगी। मुख्य सचिव ने प्रतापगढ़ में टाटा ट्रस्ट द्वारा महिला श्वेत धारा मिल्क प्रोड्यूसर कंपनी का पंजीकरण करा के लगभग 700 महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित कर दुग्ध प्रसंस्करण का काम दिसंबर में शुरू किया।

 

इस योजना के लिए हम सभी सोशल समाजवादी सीएम अखिलेश यादव के आभारी हैं।