111

 

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे देश का सबसे लम्बा एक्सप्रेसवे है। जिसे अखिलेश यादव के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार ने 22 महीने में बनाकर तैयार किया है। अब इसी एक्सप्रेसवे पर रेलवे का सबसे लम्बा पुल भी बन रहा है। ऐसे में यूपी के विकास की रफ्तार को गति देने में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का सपना पूरा हो गया है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे भारत का सबसे लम्बा ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे है। जिस पर आपातकालीन परिस्थितियों में फाइटर प्लेन भी उतारे जा सकते हैं। इसका टेस्ट किया जा चुका है।

222

 

किसानों से उनकी शर्तों पर जमीन लेकर अखिलेश यादव ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे का निर्माण कराया। अखिलेश सरकार के जमीन अधिग्रहण के तरीके से किसान काफी खुश रहे और उन्होंने कोई भी विवाद नहीं पैदा किया। इस ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे में किसान बाज़ार और मंडी भी बनाया जा रहा है। जिससे आसपास के किसानों को उनकी उपज का अच्छा बाज़ार भी मिल सके।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर आगरा-एक्सप्रेसवे पर बन रहे रेलवे पुल का जिक्र किया है। सीएम अखिलेश ने कहा, “आगरा एक्सप्रेस-वे पर बनाया जा रहा रेलवे पुल शायद सबसे भारी, चौड़ा और लम्बा रेलवे पुल होगा।”

अच्छे रास्ते ही किसी भी राज्य या देश के विकास का दरवाजा खोलते हैं, जो अखिलेश सरकार ने यूपी में बखूबी किया है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे, मेट्रो और आईटी सिटी जैसे विकास कार्य उत्तर प्रदेश के विकास में अहम योगदान दे रहे हैं। जिससे प्रदेश में निवेश को बढ़ावा मिला है। ये बात एसोचैम ने अपने सर्वे में बताया है।

अखिलेश यादव के कार्यकाल में यूपी में चौतरफा विकास कार्य हुआ है। जो आने वाले समय में यूपी को देश में नम्बर एक प्रदेश बनाने में मददगार साबित होगा।