tumblr_inline_o5mdexs4f41u0jybi_540.jpg

मानव सभ्यता को स्वच्छ और सुंदर बनाये रखने के लिए उसमें आने वाली बुरे को हमें समय के साथ सुधारते रहना चाहिए। जिससे आने वाली पीढ़ी आकर कुछ सीख सके। मानवता को जिंदा रखने के लिए हम मनुष्यों को खुद प्रयास करना होता है। लेकिन अगर सरकार इस काम में शामिल हो जाये तो ये प्रयास एक अभियान बन जाता है। उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव ने प्रदेश में होने वाली मानव तस्करी को रोकने के कड़े प्रावधान बनाये। जिससे प्रदेश में जो मानव तस्करी पिछली सरकारों में होती आ रही थी। उस पर पूरी तरह रोक लगी है। सरकार की इस पहल की सराहना अब अमेरिका ने भी की है। संयुक्त राज्य अमेरिका की ओर से मानव तस्करी की रोकथाम के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के प्रयासों की खूब तारीफ की है।

इससे पहले प्रदेश के तीन आईपीएस अधिकारियों सहित कई पुलिस कर्मियों को भारत सरकार ने भी पुरस्कृत किया गया है। वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 3310 पुलिस व अन्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को मानव तस्करी के विरूद्ध विशेष प्रशिक्षण दिलाया था। साथ ही सरकार ने ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने का प्लान भी लागू किया था। जिसका परिणाम सबके सामने है। प्रदेश के 35 एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट्स को थाने में बदलने का आदेश दिया जा चुका है।  साथ ही मानव तस्करी के अपराध के क़ानून में भी बदलाव किया गया। इसके अलावा मानव तस्करी से पीड़ित व्यक्ति को भी दो लाख रुपये देने का प्रावधान भी प्रदेश सरकार ने किया। जिससे पीड़ित दोबारा से अपनी जिंदगी का गुजर-बसर करने में सक्षम हो। सरकार के इस कदम से इस भयावह दंश से प्रदेश को छुटकारा तो मिल ही रहा है। साथ ही इससे प्रभावित होने वाले लोगों को नई ज़िन्दगी भी मिल रही है।