free milks

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव हमेशा जनता की जरूरतों को पूरा करने की कोशिश करते रहे हैं. अब प्रदेश सरकार गर्भवती महिलाओं को मुफ्त में दूध देगी. इससे पहले सरकार गर्भवती महिलाओं को मुफ्त इलाज दे रही है. सरकार के इस कदम से गर्भवती महिलाओं और कुपोषित बच्चों के सेहत में सुधार होगा. प्रदेश सरकार आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को पराग का दूध और शिशुओं को देशी घी मुहैया कराएगी.

प्रदेश सरकार के इस कदम से प्रदेश में कुपोषण का सफाया होगा. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इस महत्वकांक्षी योजना को 15 जुलाई से पूरे प्रदेश में शुरू कर देंगे. इसके लिए प्रदेश सरकार ने लखनऊ के पराग दुग्ध संघ से करार किया है. इस योजना में आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से प्रत्येक गरीब गर्भवती महिला को प्रतिदिन 21 ग्राम मिल्क पाउडर महीने के 12 दिन मिलेगा. साथ ही कुपोषित बच्चों को 20 ग्राम घी महीने के 25 दिन मिलेगा. सरकार इन उत्पादों को आंगनबाड़ी केन्द्रों तक पहुँचाने के लिए अतिरिक्त वाहनों की व्यवस्था कराएगी.

कुल मिलाकर ये योजना गरीब गर्भवती महिलाओं और कुपोषण से जूझ रहे उन बच्चों के लिए बहुत ही लाभकारी होगा. जिन्हें दूध और घी की कमी के चलते रोगों का शिकार होना पड़ता है. साथ ही दूध के व्यापार को भी इस योजना से बढ़ावा मिलेगा और लोगों को रोजगार मिलेगा.