upcm1

कहते हैं विकास यात्रा में युवाओं को रोजगार दिलाना किसी भी सरकार की पहली सोच होनी चाहिए। क्योंकि युवा किसी धरोहर से कम नहीं होते हैं। जिनको सही मौके दिलाने में सरकार को आगे आना चाहिए। इस मामले में हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव काफी आगे रहे हैं। उनकी हमेशा कोशिश रही है कि प्रदेश के युवा तरक्की और विकास में प्रदेश के भाग्य विधाता बनें। इसी क्रम में प्रदेश सरकार ने हाल ही में राज्य कौशल विकास मिशन में अब युवाओं को मोबाइल क्षेत्र में भी दक्ष बनाने का निर्णय लिया है। इस संबंध में मिशन और लावा इंटरनेशनल लिमिटेड के बीच फ्लैक्सी अनुबंध हुआ है।

इस अनुबंध के तहत चार साल में प्रदेश के 10 हजार युवकों को प्रशिक्षित कर उनके प्लेसमेंट को सुनिश्चित किया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए और भी संभावनाओं पर विचार कर रहें हैं। इतना ही नहीं प्रदेश सरकार कौशल विकास मिशन के जरिए प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लगातार प्रयास कर रही हैं। विभिन्न वेब पोर्टल व प्लेसमेंट एजेंसियों के माध्यम से प्रदेश के बाहर भी युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया कराए जा रहे हैं।

लावा कंपनी चार साल में प्रदेश के 10,000 युवाओं को नोएडा स्थित प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण देगी।  इनमें से 80 प्रतिशत युवाओं को अनिवार्य रूप से लावा कंपनी में ही नौकरी दी जाएगी। राज्य कौशल विकास मिशन इससे पहले भी 11 नामी कंपनियों के साथ अनुबंध के आधार पर युवकों को प्रशिक्षण दिला रही है। वहीं लार्सन एंड टर्बो समेत कई अन्य कंपनियों के साथ फ्लैक्सी अनुबंध करने की बातचीत अंतिम चरण में है। कुल मिलाकर इन कंपनियों से अनुबंध के बाद युवाओं के लिए रोजगार का एक बड़ा प्लेटफार्म तैयार हो जाएगा।