दिव्य की सकुशल वापसी से जहां आगरा सहित पूरा उत्तर प्रदेश खुशियां मना रहा था, वहीं मुख्यमंत्री अखिलेश ने भी दिव्य और उसके परिवार वालों से आत्मीयता भरी मुलाकात की। खेरिया एयरपोर्ट पर दिव्य से मिले मुख्यमंत्री ने दिव्य से पूछा- बेटा, आप रोए तो नहीं थे? दिव्य ने नहीं में जवाब दिया तो अखिलेश यादव ने कहा- तुम बहुत हिम्मती हो। मन लगाकर पढ़ो और बहादुर बनो। 


इसके बाद दिव्य की मां निशा ने आभार जताते हुए कहा कि सर, जिस तरह से पुलिस और शासन मेरे बेटे को सकुशल वापस लाने में जुट गया उसके लिए आपकी आभारी हूं। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा- आपने ही इसे बचाया है। पुलिस ने बहुत मदद की। आपका बहुत-बहुत शुक्रिया। इस पर सरल और सहज स्वभाव वाले मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आपका दर्द समझ सकता हूं। गुजरता उसी पर है, जिसका बच्चा होता है। आप पर क्या गुजरी होगी, मैं समझ सकता हूं। मुख्यमंत्री ने अपहरण के खुलासे में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एएसपी अनुराग वत्स और सीओ सदर असीम चौधरी से हाथ मिलाकर उन्हें बधाई दी। कहा कि जो अच्छा काम करेंगे, उन्हें सरकार पुरस्कृत करेगी।