ik

 

अखिलेश यादव में यूपी को उत्तम प्रदेश बनाने में अहम योगदान निभाया है। पूर्व की सरकारों ने सम्पूर्ण प्रदेश में उतना काम नहीं किया है। जितना की सीएम अखिलेश ने पूरे 5 साल में कर दिखया है। बात जब पूर्वांचल की आती है। तो समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के बगैर कैसे पूरी हो सकती है। इसलिए आम जनता भी कहने लगी है। अखिलेश भैय्या का काम बोलता है। जनता में यूँ किसी की लोकप्रियता नहीं हो जाती है। अखिलेश यादव ने जमकर 5 साल काम किये हैं। इसलिए वह आज यूपी के सबसे लोकप्रिय नेता बन गये हैं।

 

एक झलक पूर्वांचल के विकास कार्यों की:

 

ik

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बलिया को पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का सौगात देने का काम किया है। इसके निर्माण लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे की तरह ही 30 महीने के रिकॉर्ड समय में हुआ है। 355 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस-वे का निर्माण 30 महीने में हुआ है।

 

hhh

 

गोरखपुर में एम्स के लिए जमीन दिया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गोरखपुर में बनने वाले एम्स के लिए 112 करोड़ की भूमि का हस्तांतरण किया। पूर्वाचल को कई और तोहफा भी दिया। जिसमें मेडिकल कालेज के कई नए भवनों और उपकरणों का भी लोकार्पण किया। इस तरह गोरखपुर में बनने वाले एम्स के लिए कुल 768।61 करोड रुपये की योजना शुरू की।

hh

बलिया में भूमिगत बिजली

उत्तर प्रदेश का बलिया जिला काफी महत्वपूर्ण है। बलिया जिले में सीएम अखिलेश काफी काम किया है। आजमगढ, बलिया समेत कई जिलों में भूमिगत बिजली को विस्तार देने के लिए योजनायें चलाई जा रही हैं।

231

आजमगढ में चीनी मिल

लाखों किसानों की उम्मीद और बहुप्रतीक्षित मांग किसान सहकारी चीनी मिल सठियांव में शुरू हो गई। पूर्व की सरकार व शासन की उपेक्षा तथा भ्रष्टाचार के चलते मिल की स्थिति बिगड़ती गयी और 2008 में इसे बंद कर दिया गया था। इससे न केवल गन्ना किसानों की दिक्कतें बढ़ीं बल्कि हजारों कर्मचारी बेरोजगार हो गये। इस मिल के चालू होते ही उद्योग शून्य होने का दाग जनपद से मिट गया ।

पूर्वांचल में अन्य विकास कार्य:

– गाजीपुर में हॉकी स्टेडियम और बलिया में स्पोर्ट्स कॉलेज

– बनारस में अमूल डेयरी का प्लांट

– सोनभद्र, अनपरा डी और बलिया के चितबड़ागांव में बिजली उत्पादन के लिए उपकेन्द्र बनाये गये