उत्तर प्रदेश को तरक्की के रास्ते पर लाने के बाद अब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव खेल के क्षेत्र में यूपी को अलग मुकाम पर पहुंचाने में जुट गए हैं। मुख्यमंत्री खुद फुटबाॅल के दीवाने हैं। उनकी मंशा के अनुरूप ही इंग्लैंड के आर्सेनल और स्पेन के रियल मेड्रिड क्लबों के शानदार फुटबॉल स्टेडियम जैसा ही खूबसूरत फुटबॉल स्टेडियम लखनऊ में भी जल्द आकार लेगा। इंग्लैंड, स्वीडन और स्पेन के मशहूर क्लबों के स्टेडियम का दौरा कर लौटी एलडीए अफसरों की टीम दुनिया के बेहतरीन स्टेडियमों की अहम खूबियों को लेकर रिपोर्ट तैयार करने में जुट गई है। इसे शासन को पेश कर फाइनल करवाया जाएगा ताकि स्टेडियम का जल्द ही शिलान्यास हो सके। एलडीए अफसरों ने बताया कि मुख्यमंत्री अखिलेश चाहते हैं कि देश का अब तक का सबसे बेहतरीन फुटबॉल स्टेडियम लखनऊ में ही बनाया जाए। 

देश में अब तक इस स्तर का फुटबॉल स्टेडियम नहीं है, जैसा लखनऊ में बनाने की तैयारी सरकार कर रही है। एक ओर 50 हजार क्षमता का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम तो उसके साथ 25 हजार दर्शकों वाला इंटरनेशनल फुटबॉल स्टेडियम भी होगा। शहीद पथ के साथ बनाए जा रहे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के साथ ही पहला अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल स्टेडियम बनेगा। प्रदेश में इंटरनेशनल मैच कराने लायक ये पहला फुटबॉल मैदान होगा।