जनता के दुख-दर्द में मदद के लिए हमेशा खड़े रहने वाले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी अहम भूमिका निभा रहे हैं। उनके इन्हीं प्रयासों के लिए उन्हें लिम्का बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड की तरफ से सम्मानित किया गया है। विश्व गौरैया दिवस के मौके पर सीएम अखिलेश को लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की तरफ से सम्मानित किया गया। ये सम्मान उन्हें सबसे ज्यादा बर्ड वॉचिंग के लिए मिला। 

मुख्यमंत्री अखिलेश ने दिसंबर 2015 को आगरा में इंटरनेशनल बर्ड फेस्टिवल का भी उद्घाटन किया था। इस फेस्टिवल के पीछे उनका मकसद उत्तर प्रदेश को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बर्ड वॉचिंग डेस्टिनेशन के तौर पर स्थापित करना था। सीएम अखिलेश का मानना है कि टीवी और वाट्सएप पर लगे रहने में उतनी खुशी नहीं मिलती जितनी चिड़ियों को देखकर मिलती है। विश्व गौरैया दिवस पर सीएम ने कहा कि गौरैया के संरक्षण के लिए हम सभी को एकजुटता दिखानी पड़ेगी ताकि इस पक्षी की पुनः वापसी हो सके। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने डाक तार विभाग के फस्र्ट डे स्टैम्प कवर का विमोचन करने के साथ-साथ एक विशेष पुस्तक प्यारी गौरैया का विमोचन भी किया। उन्होंने कल आयोजित स्पैरो क्विज के विजेताओं को स्मृति चिन्ह भी प्रदान किए। साथ ही, पांच बच्चों को प्रतीक स्वरूप गौरैया के घोंसले भी बांटे।

PhotoSource: Amar Ujala